Friday, May 29, 2009

क्या प्रधानमंत्री आज रात सोयेंगे ??????????


मुझे लगता है भारत का प्रधानमंत्री या तो दुसरे ग्रह से आए है या हिन्दुओ का बजा बजाने का ठेका लिया हुए है.
प्रधानमंत्री के रूप में इस महान शख्शियत को एक मुस्लमान के आस्ट्रलिया में पकडे जाने पर रात भर नींद नही आई थी. रात भर जागता रहा। नींद ही नहीं आई की हिंदुस्तान के एक मुस्लमान को आस्ट्रलिया ने आतंकवाद की घटनाओ में संदेहास्पद जान कर पकड़ कैसे लिया । अरे यहाँ हिंदुस्तान में तो घटना करने के बाद भी घर जमाई मानते है और आपने उनको जेल के संखिचो के पीछे धकेल दिया। जब तक वो वापस हिंदुस्तान नही आगया यहाँ उसे सेलिब्रटी जैसा स्वागत नही मिला तब तक तो माननीय प्रधानमंत्री ने भोजन नही किया.
और जब आज दिन रात हिंदुस्तान के हर एक चैनल और अख़बार बता रहे है की हिंदुस्तान के नौजवान बच्चे आस्ट्रलिया की सडको पर दरिंदो द्वारा लहू ल्हुअन हो हस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़राहे है तब हिंदुस्तान का यह अजीम शख्श अपने शेयर मार्केट और नए मंत्रियो के रंगीन ख्वाबो में खो रहा है. एक बयान अभी तक नहीं आया की वहा पर हिन्दुस्तानी नौजवानों का होगा क्या? क्या आस्ट्रेलियन दरिंदो के सामने वो लोग इसी तेरेह से घुटने के बल बैठे पिटते रहेंगे. अरे आप की चीन मैं राजदूत निरुपमा जी को चीन सरकार रात के दो बजे उठा कर तिबत के प्रदर्शनकारियो पर नोटिस देदिया था और आप मुह ताकते रहे थे.
वहा वियना में एक संत को मार दिया और आप यहाँ पर उस घटना के विरोध में हुए प्रधार्शंकरियो पर तलवारे भांज रहे हो. अरे हिमत है तो आस्ट्रिया सरकार से जवाब तलब करो और शीघ्र अति शीघ्र उन दुर्दांत आतंकवादियो को पकडवा कर घुटनों के बल हिंदुस्तान की धरती पर इन प्रदर्शनकारियो के सामने घिघवा क्यों नहीं देते. कब यह शशि थरूर काम आयेगा अभी भी इनका लाभ नही लिया तो फिर क्या। एअसे ही तो कांग्रेस के टिकेट पर १० -१० साल से जीते हुए सांसदों को मंत्री नही बनाया। इन सहाभ को तो पहेले ही बार में। कुछ तो लाभ लो इनकी संयुक्त परिषद् की कुर्सी का। या खाली मोदी जी को ही हूल देने का बीडा उठाया है. एक और नई जाँच बिठा कर दी, तीन तीन चुनाव हरने के बाद भी आप नही छोडेंगे।
आपको रात भर नींद नहीं आई थी एक मुस्लमान के आस्ट्रलिया में पकडे जाने पर. आपने भारत के सभी संसाधनों पर भी इन्ही का अधिकार पहेले बताया था. तो क्या बिना एकभी हिन्दू के वोट के सिंह इस किंग बनगय दूसरी बार भी। अरे शर्म करो श्री प्रधानमंत्री जी उन बच्चो को हलहाल होते और उनके रिश्तेदारों को हलकान होते बचा तो लो। अरे न अपनी नींद ख़राब करो दिन की इक मिनट ही उनपर बर्बाद करदो एक बयान ही देदो। और नहीं तो कम से कम हाई कमीसन जो दिल्ली में बैठा हुआ है उसे ही जवाब तलब करलो.
हिन्दुओ का खून इतना भी पानी नहीं हुआ परधानमंत्री जी की आप उनका इसप्रकार तृसकर ही करदो.
आप चाहे कैसे भी बने प्रधानमंत्री पर हो तो २५ करोड़ हिन्दुस्तानियो के और जो मर रहे है वो हिन्दुस्तानी ही है क्या हुआ जो मुस्लमान नहीं. उनको बचाना तो आपको ही पड़ेगा. बड़े आदर से एक बात कहूँगा प्रधानमंत्री जी आप कमजोर नही है यह तो मानगाये अब सहाभ सिद्ध भी तो करदो। क्योंकि निर्णायक और मजबूत लोग अभी घाव ही धो रहे है। आप वहा मरहम नही लगा सकते यहाँ आस्ट्रलिया में पिटे, लुटे, घायल भारतीयों पर तो लगा दो.
सोचो इसी आस्ट्रलिया ने नुक्लिएअर टेस्ट करने, उसके पादरी ग्राहम के उडीसा में मरने, या कंधमाल की घटनाओ ने हम हिन्दुस्तानियो से नाक रगड़वा दी थी। और हम है की अभी अपने मंत्री मंडल के बाप बेटे, सासुर और दामाद की कुर्सी बिछाने में ही लगे है। अब तो सरकार को रंगीन खुमरियो से बहार आजाना चाहिय.
हम आपकी कार्यवाही का इन्तजार करे या सभी बाकि बचे हिन्दुओ के हिंदुस्तान में मुस्लमान बनाने का?

4 comments:

  1. सही कहा आपने त्यागी जी,
    सरकार को अभी आपने मंत्रिमंडल के विस्तार से फ़ुर्सत नही मिली है. जब फ़ुर्सत मिलेगी तब देख लेंगे. अभी क्या जल्दी है.
    लेकिन मैं ज़रा आपके विचारों को ठीक केरने की कोशिश केरना चाहूँगा, आप हिंदू मुश्लीम की बात ना किया करें, ये बाते कुछ लोगों को बुरी लग सकती हैं, ये बात आलग है की हमारे देश का बटवारा किशी हिंदू पार्टी ने नही बल्कि मुस्लिम लीग के कारण हुआ था.
    फिर भी ये बाते संप्रदायकता को बढ़ावा देती हैं, हाँ आगर कोई और कहता तो ये बाते धर्म निरपेक्ष ज़रूर होती.

    अतः आपसे सदर निवेदन है की आपनी लेखनी को विश्राम ना दे , लेकिन शैली को ज़रूर बदल लें.

    सादर,
    एक देश प्रेमी
    मेरा भी एक छोटा सा ब्लॉग है, कभी फ़ुर्सत मिले तो आईएगा, कुछ छोटी छोटी बातों का ज़िक्र मिलेगा.
    http://rashtravad.blogspot.com/

    ReplyDelete
  2. Badhiya se nind aayegi. Ab 5 saal baad nind ki chinta karenge. Chunav ke time. Ees baar ka kya lakshya hai singh saheb kaa? Peechla baar me to kewal ek nuclear deal ro ga kar karwaye the. aabki ? Bechare ko raahul aur sonia ne mehnat kar kar ke eenke liye kursi jutaya hai. ab bechare kaa karen?

    ReplyDelete
  3. Hello Blogger Friend,

    Your excellent post has been back-linked in
    http://hinduonline.blogspot.com/
    - a blog for Daily Posts, News, Views Compilation by a Common Hindu
    - Hindu Online.

    Please visit the blog Hindu Online for outstanding posts from a large number of bloogers, sites worth reading out of your precious time and give your valuable suggestions, guidance and comments.

    ReplyDelete
  4. bahut saheee,,,,,,,,,,,,, magar kar he kya sakte hai jab desh ki pagal janta ne inko fir se haanth mein talwaar de ke apna sir kaatne bhej diya hooo

    ReplyDelete